ADCA Ka Full Form In Hindi & Information, ADCA का फुल फॉर्म 2022

ADCA Ka Full Form and Information: ADCA का मतलब या फुल फॉर्म (ADCA Ka Full Form) एडवांस डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन है।

जैसा कि हम जानते हैं कि आज कंप्यूटर और इंटरनेट का युग चल रहा है, और ऐसे समय में जब जो छात्र 10वीं या 12वीं से पहले कंप्यूटर से संबंधित कोई भी कोर्स नहीं कर पाते हैं,

आज उन सभी ADCA कोर्स में यानि (ADCA Ka Full Form) एडवांस डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन बहुत प्रसिद्ध हो रहा है।

ADCA Ka Full Form In Hindi & Information, ADCA का फुल फॉर्म 2022
ADCA Ka Full Form In Hindi

ADCA Ka Full Form

ADCA कोर्स की सबसे अच्छी बात यह है कि इसे कोई भी छात्र कर सकता है, चाहे उसने दसवीं कक्षा उत्तीर्ण की हो या स्नातक की उपाधि प्राप्त की हो।

आज हर क्षेत्र में कंप्यूटर का उपयोग बढ़ रहा है, और छात्रों या जिन्हें कंप्यूटर का ज्ञान नहीं है, उन्हें बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है,

इसलिए ADCA कोर्स उन सभी लोगों या छात्रों के लिए बहुत मददगार है। और यह कोर्स उन्हें कंप्यूटर ऑपरेशन और कंप्यूटर पर रोजमर्रा के सभी काम करने का सारा ज्ञान देता है।

Also ReadUP Me Kitne Jile Hai?

कुछ समय पहले तक लोग DCA यानी डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन कोर्स करते थे, लेकिन अब ADCA कोर्स, जो डीसीए से काफी एडवांस है,

आज कई युवा, छात्र और कामकाजी लोग हैं, जिन्हें कंप्यूटर सीखने की बहुत इच्छा है, लेकिन यह नहीं पता कि शुरुआत कहाँ से करें।

तो ADCA कोर्स उन सभी लोगों के लिए बहुत अच्छा कोर्स है, जहां उन्हें जीरो लेवल से कंप्यूटर कॉन्सेप्ट सिखाया जाता है।

ADCA कोर्स क्या है? ADCA Ka Full Form

ADCA Ka Full Form: ADCA एक बेसिक कंप्यूटर डिप्लोमा कोर्स है जिसे कोई भी छात्र दसवीं पास करने के बाद कंप्यूटर क्षेत्र का बुनियादी ज्ञान प्राप्त करने के लिए कर सकता है,

यह कोर्स कंप्यूटर क्षेत्र में एक छात्र का पहला कोर्स हो सकता है, जिसके बाद वह कंप्यूटर क्षेत्र में काम करना शुरू कर सकता है, या कंप्यूटर और आईटी क्षेत्र में आगे के कोर्स को आगे बढ़ाकर वह अपने करियर को उच्च स्तर पर ले जा सकता है।

आज बड़ी संख्या में छात्रों के साथ-साथ सीनियर सिटीजन लोग भी ADCA (ADCA Ka Full Form) यानी एडवांस डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन कोर्स कर रहे हैं और खुद को कंप्यूटर लिटरेट बना रहे हैं।

ADCA कोर्स की पात्रता

ADCA कोर्स में शामिल होने के लिए न्यूनतम योग्यता दसवीं है अर्थात कोई भी छात्र जो दसवीं पास कर चुका है वह इस ADCA कोर्स में शामिल हो सकता है।

तो यहां मैं आपको बता दूं कि अगर कोई छात्र 12वीं या ग्रेजुएशन के बाद भी ADCA कोर्स करना चाहता है तो वह कर सकता है।

ADCA कोर्स के लिए, एक छात्र की आयु कम से कम 14 वर्ष होनी चाहिए और कोई अधिकतम आयु सीमा नहीं है।

Also ReadUP Ke Jile?

ADCA कोर्स अवधि

ADCA का कोर्स 12 महीने का होता है, जिसका मतलब 1 साल होता है, जिसके दौरान छह-छह महीने के 2 सेमेस्टर होते हैं।

ADCA का कोर्स किसे करना चाहिए

ADCA Ka Full Form– वैसे ADCA कोर्स कंप्यूटर का बेस्ट बेसिक कोर्स है जिसे कोई भी स्टूडेंट जो दसवीं पास कर चुका है, कर सकता है. लेकिन अगर किसी छात्र ने दसवीं तक कंप्यूटर से संबंधित कोई पढ़ाई नहीं की है,

तो छात्र को यह कोर्स करना चाहिए क्योंकि आगे वह किसी भी क्षेत्र में कोई भी कोर्स करेगा, तो उसका कंप्यूटर ज्ञान उसे अपने विषयों को समझने में मदद करेगा, और इंटरनेट के माध्यम से बेहतर सीखने में बहुत मददगार है।

साथ ही जो लोग उच्च शिक्षा कर रहे हैं और अभी तक उन्हें कंप्यूटर का ज्यादा ज्ञान नहीं है तो उन छात्रों को भी यह कोर्स करना चाहिए, जो लोग काम कर रहे हैं और जिन्हें कंप्यूटर का ज्ञान नहीं है, उन्हें भी यह कोर्स करना चाहिए।

ADCA कोर्स के दौरान छात्र क्या सीखते हैं?

ADCA के 1 साल के कोर्स के दौरान छात्रों को कंप्यूटर बेसिक्स से लेकर बेसिक कंप्यूटर प्रोग्रामिंग का ज्ञान दिया जाता है।

ADCA कोर्स प्रथम सेमेस्टर के विषय-

  • कंप्यूटर मौलिक (computer fundamentals)
  • ऑपरेटिंग सिस्टम (Operating System)
  • माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस, माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल (Microsoft Office, Microsoft Excel)
  • इंटरनेट और ईमेल (Internet and Email)
  • कंप्यूटर नेटवर्क (computer network)
  • मल्टीमीडिया अवधारणा (multimedia concept)

ADCA कोर्स दूसरे सेमेस्टर के विषय

  • गणना (Calculation)
  • मूल दृश्य (visual Basic)
  • कॉरल ड्रा (Corel Draw)
  • सी प्रोग्रामिंग (c programming)
  • फोटोशॉप (Photoshop)
  • सी++ (c++)

ADCA कोर्स प्रवेश प्रक्रिया

अधिकांश संस्थान आपको सीधे प्रवेश देते हैं, और प्रतिशत मानदंड भी सरल है, जिसका अर्थ है कि 10 वीं पास करने वाले छात्र इस ADCA कोर्स में शामिल हो सकते हैं। वहीं, कुछ केंद्रीय और राज्य विश्वविद्यालय भी इस कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं।

ADCA कोर्स के लिए कुछ अच्छे संस्थान

ADCA कोर्स आज केंद्र और राज्य सरकारों के अलावा विभिन्न निजी संस्थानों में उपलब्ध है। यहां तक ​​कि कई संस्थान इस कोर्स को ऑनलाइन भी उपलब्ध कराते हैं। जब भी कोई छात्र इस कोर्स में प्रवेश लेता है तो उसे दो बातों का ध्यान रखना चाहिए-

  1. जिस संस्थान में आप प्रवेश लेने जा रहे हैं, वहां पढ़ाई कैसी है, लेक्चरर कैसे हैं, लैब की सुविधा कैसी है।
  2. वह संस्थान मान्यता प्राप्त है या नहीं

कुछ शीर्ष ADCA संस्थान निम्नलिखित हैं-

  • माता सुंदरी कॉलेज, नई दिल्ली (Mata Sundari College, New Delhi)
  • खेड़ा आर्ट्स एंड कॉमर्स कॉलेज, खेड़ा (Kheda Arts and Commerce College, Kheda)
  • कैरियर विकास संस्थान लखनऊ (Career Development Institute Lucknow)
  • नेताजी सुभाष कॉलेज, रायपुर (Netaji Subhash College, Raipur)
  • ठाकुर पॉलिटेक्निक, मुंबई (Thakur Polytechnic, Mumbai)
  • व्यावसायिक कंप्यूटर संस्थान, मुंबई (Professional Computer Institute, Mumbai)

ADCA कोर्स के लिए ट्यूशन फीस-

अधिकांश कॉलेजों में ADCA कोर्स के लिए ट्यूशन ₹5000 से ₹20000 तक है, जबकि कुछ निजी कॉलेज इस कोर्स के लिए ₹50000 तक चार्ज करते हैं।

नौकरी प्रोफ़ाइल-

ADCA कोर्स के बाद आप अच्छी सैलरी की उम्मीद कर सकते हैं, या अगर आप पहले से कोई जॉब कर रहे हैं तो उसमें आगे बढ़ने की उम्मीद कर सकते हैं.

इस कोर्स के बाद छात्रों को सरकारी और निजी क्षेत्र में काम करने का मौका मिलता है, जहां वे निम्नलिखित प्रोफाइल प्राप्त कर सकते हैं-

  • कंप्यूटर ऑपरेटर (computer operator)
  • तथ्य दाखिला प्रचालक (fact admission operator)
  • वेब डेवलपर (Web Developer)
  • मुनीम (bookkeeper)
  • आईटी इन्फ्रास्ट्रक्चर पर्यवेक्षक (IT Infrastructure Supervisor)
  • ग्राफिक डिजाइनर (graphic designer)
  • डीटीपी ऑपरेटर (dtp operator)
  • कार्यालय कार्यकारी (office executive)

ADCA कोर्स के बाद छात्रों को शुरुआती वेतन 7 से ₹10000 तक मिल सकता है जो अनुभव और उनके कौशल विकास के साथ बढ़ सकता है। ADCA Ka Full Form, पोस्ट कैसी लगी हमें जरूर बताएं।

ADCA कितने साल का होता है?

ADCA कोर्स 1 year का होता है।

एडीसीए में कौन कौन सा कोर्स होता है?

ADCA एक बेसिक कंप्यूटर डिप्लोमा कोर्स है जिसमें कंप्यूटर एप्लीकेशन और सॉफ्टवेयर का ज्ञान दिया जाता है। कंप्यूटर का ज्ञान प्राप्त करने के लिए यह कोर्स 10वीं के बाद कोई भी छात्र कर सकता है और यह कोर्स उस छात्र का कंप्यूटर के क्षेत्र में पहला कोर्स हो सकता है।

बेसिक कंप्यूटर कोर्स में क्या क्या सिखाया जाता है?

बेसिक कंप्यूटर कोर्स में आपको कंप्यूटर के सामान्य ज्ञान के बारे में बताया जाता है, जिसमें कंप्यूटर का बेसिक ज्ञान होता है, जिससे आपको सामान्य रूप से कंप्यूटर का परिचय मिलता है और इंटरनेट के बारे में भी जानकारी मिलती है, सबसे पहले आपको कंप्यूटर पर काम करना होता है।

Leave a Comment